सऊदी अरब में शिया मस्जिद में आत्मघाती बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत, 18 घायल                                                 पाक में मौजूद आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह समस्या पैदा कर रहे: अमेव्यापारी नेता मिले मंत्री गोप जी सेरिकी जनरल                                            पूर्वी रूस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं

लिखने के शौकीन हैं तो आपके लिए ये हैं बेहतर करियर ऑप्‍शन

टेक्निकल राइटिंग:
आजकल टेक्नोलॉजी हमेशा अपडेट होती रहती है इसीलिए टेक्नोलॉजी और इनोवशन के फील्ड से जुड़ी कंपनियों को अपने प्रोडक्ट और उनके फंक्शन के बारे में कस्टमर को अपटेड करना मुश्किल होता है, लेकिन इस मुश्किल काम को टेक्निकल राइटर सरल शब्दों के माध्यम से बेहद आसान बना देते हैं दरअसल, टेक्निकल राइटर प्रोडक्ट के मैन्युअल, अपेन्डिक्स और कैटलॉग को डेवलप करन का काम करते हैं। आज टेक्निकल राइटर की डिमांड सॉफ्टवेयर, जॉब साइट्स कंपनियों के अलावा, मल्टीनेशनल कंपनियों में भी खूब हैं।वेब कंटेंट राइटर:
प्रिंट की तुलना में इलेक्‍ट्रॉनिक माध्यम में लिखना टफ माना जाता है। वेब पेज आकर्षक न हो, तो रीडर उसे पढ़ने की जहमत भी नहीं उठाते हैं। वैसे भी कम्प्यूटर स्क्रीन की तुलना में प्रिंट पेज पर पढ़ना ज्यादा आसान होता है इसलिए, वेब राइटर की लेखनी सरल, होनी चाहिए।बेव राइटर के रूप में आप वेब साइट्स कंपनियों में जॉब कर सकते हैं।रेज्यूमे राइटिंग:
जब आप जॉब की तलाश में हैं, तो सबसे पहले यही कहा जाता है कि रेज्यूमे आकर्षक होना चाहिए। कंपनी भी रेज्यूमे को कैंडिडेट्स का पहला इम्प्रेशन मानती है। रेज्यूमे जानदार हो, तो नौकरी मिलने में आसानी होती है। कई बार कैंडिडेट रेज्यूमे की वजह से भी नौकरी पाने में असफल रहते हैं, लेकिन आपकी रेज्यूमे को मार्केट के अनुकूल बनाने में रेज्यूमे राइटर माहिर होते हैं। रेज्यूमे राइटर के रूप में आप ऑनलाइन जॉब पोर्टल्स, जैसे-नौकरी डॉट कॉम, मोनस्टर डॉट कॉम आदि में जॉब की तलाश कर सकते हैं। साइंस राइटिंग:
रिसर्च और डेवलपमेंट के कार्यों में तेजी आने से साइंस राइटर की डिमांड तेजी से बढ़ऩे लगी है खासकर साइंस राइटर साइंटिस्ट और रिसर्चस को उनके रिसर्च पेपर को तैयार करने, साइंस जर्नल के लिए आर्टिकल लिखने, प्रेजेंटेशन, लैब रिपोर्ट आदि को तैयार करने में मदद करते हैं साइंस राइटर बनने के लिए जरूरी है कि आपकी संबंधित विषयों पर अच्छी पकड़ हो साइंस राइटर की सैलरी उनके वर्क एक्सपीरियंस और सब्जेक्ट पर भी निर्भर करती है।होस्ट राइटर: कई बार आपको यह सोचकर आश्‍चर्य होता होगा कि फेमस पर्सनाल्‍टी अपनी ऑटोबायोग्राफी को कैसे अच्छी तरह कागजों पर उकेर देते हैं। जबकि इनमें से सभी अच्छे राइटर भी नहीं होते हैं कई लोग ऐसे होते हैं। जिनके पास इतना समय नहीं होता है कि वे पेन लेकर लिखने को बैठे इस तरह के लोग होस्ट राइटर को हायर करते हैं। जो उनके विचारों के आधार पर किताब तैयार करते हैं इसके बदले उन्हें अच्छा अमाउंट पेड किया जाता है। दरअसल, होस्ट राइटर किताब लिखने का क्रेडिट नहीं मिलता है। फिर भी होस्ट राइटर को आज स्टोरी राइटिंग, किताब, मैमोरी, ऑटोबायोग्राफी आदि को लिखने के लिए हायर किया जाता है।योग्यता:राइटिंग जॉब के लिए मास कम्युनिकेशन की डिग्री रखने वाले प्रोफेशनल्स को अधिक तरजीह दी जाती है साथ ही, अंग्रेजी विषय पर अच्छी पकड़ भी होनी चाहिए। टेक्निकल राइटिंग के लिए टेक्निकल सब्जेक्ट के अलावा, कम्प्यूटर का नॉलेज बेहद जरूरी है।

News Posted on: 05-01-2016
वीडियो न्यूज़
मासिक राशिफल