सऊदी अरब में शिया मस्जिद में आत्मघाती बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत, 18 घायल                                                 पाक में मौजूद आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह समस्या पैदा कर रहे: अमेव्यापारी नेता मिले मंत्री गोप जी सेरिकी जनरल                                            पूर्वी रूस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं

टल सकती है भारत-पाक वार्ता!

नई दिल्ली। सूत्र से प्राप्त जानकारी के मुताबिक पठानकोट एयरफोर्स बेस पर हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच 15 जनवरी को होने वाली विदेश सचिव स्तर की बातचीत टल सकती है।भारत का कहना है कि पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करे, तभी बात बनेगी। यह वार्ता इस्लामाबाद में होनी थी। पठानकोट हमले से जुड़े सबूत पाकिस्तान को भारत की ओर से दे दिए गए हैं और कहा गया है कि सबूतों पर पाकिस्तान ठोस कार्रवाई करे, इसी के बाद बातचीत होगी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, जैश का सरगना मसूद अजहर इस पूरे हमले का मास्टरमाइंड है। पाक में बैठे हैंडलर पठानकोट में आतंकियों को निर्देश दे रहे थे। सूत्रों का कहना है कि किसी एयरबेस पर ले जाकर आतंकियों को सबकुछ सिखाया गया ताकि पठानकोट में आतंकियों को अजीब न लगे और वे ऑपरेशन को सही से अंजाम दे सकें।सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान के चकलाला और लायलपुर एयरबेस पर ट्रेनिंग दी गई हो सकती है। इन आतंकियों की पूरी कोशिश यह थी कि दोनों देशों के बीच होने वाली बातचीत को डीरेल किया जाए। सूत्रों के अनुसार, हैंडलर बहावलपुर, सियालकोट और शकरगढ़ में थे। आतंकी एयरबेस के बारे में काफी जानकारी रखते थे। आतंकी एल्युमिनियम पाउडर के साथ भी आए थे। आतंकियों के पास एयरबेस पर हमले के लिए हथियार भी थे।आतंकियों की मौत के बाद भी 29 धमाके हुए हैं। हमलावर मुंबई से ज्यादा तैयारी के साथ आए थे। उनके पास बहुत बड़ी मात्रा में आधुनिक हथियार और विस्फोटक थे। ऑपरेशन के दौरान पूरी कमान सेना के हाथों में रही।

News Posted on: 07-01-2016
वीडियो न्यूज़
मासिक राशिफल